MLC चुनाव: इस वजह से मुलायम की इस खास नेता को बीजेपी ने दिया टिकट !

लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश की 13 विधान परिषद सीटों पर चुनाव होना है। ऐसे में बीजेपी ने अपने 10 उम्‍मीदवारों का ऐलान कर दिया। इसमें पूर्व सपा MLC सरोजनी अग्रवाल का नाम भी शामिल रहा, जिन्‍हें भाजपा में आए हुए अभी एक साल भी नहीं हुआ है। इतना ही नहीं डॉ. सरोजनी अग्रवाल को समाजवादी पार्टी संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव का भी खास माना जाता है।

MLC चुनाव

पिछले साल उन्‍होंने भाजपा का दामन थामा।

डा. सरोजिनी अग्रवाल पेशे से चिकित्‍सक हैं। वह करीब दो दशक तक समाजवादी पार्टी की वफादार रहीं। पिछले साल उन्‍होंने भाजपा का दामन थामा।

loading...

सरोजगी अग्रवाल को टिकट देकर और भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्‍यक्ष लक्ष्‍मीकांत बाजपेयी का पत्‍ता काट कर आलाकमान ने स्‍थानीय भापाइयों को सकते में डाल दिया है। भाजपा में शामिल होने के बाद पूर्व सपा MLC अभी तक हाशिए पर चल रही थी।

विधान परिषद भेजकर पार्टी ने रिटर्न गिफ्ट दिया

बताया जाता है कि डॉ. सरोजनी अग्रवाल नवनिर्वाचित राज्‍यसभा सांसद कांता कर्दम की भी खास हैं। इस बार सरोजनी अग्रवाल को विधान परिषद भेजकर पार्टी ने रिटर्न गिफ्ट दिया है।

1996 से 2010 तक उन्‍हें सपा में बड़ी जिम्‍मेदारी दी गई

1995 में सपा संस्‍थापक मुलायम सिंह यादव ने डा. सरोजिनी अग्रवाल को पार्टी ज्वाइन करार्इ थी। 1996 से 2010 तक उन्‍हें सपा में बड़ी जिम्‍मेदारी दी गई। इस दौरान वह पार्टी की राष्ट्रीय सचिव भी रहीं। 2009 में पार्टी की तरफ से उन्‍हें विधानपरिषद भेजा गया। इसके बाद 2015 में उन्‍हें फिर MLC बनाया गया।

loading...