Good News : Reliance Jio में 80,000 पदों पर भर्तियां, ऐसे करें अप्लाई !

New Delhi. टेलिकॉम कंपनी Reliance Jio इस साल 80 हजार लोगों को नौकरियां देने की योजना बना रहा है। यह जानकारी Reliance Jio के वरिष्ठ अधिकारी ने दी। Jio में काम करने की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों को जियो की आधिकारिक वेबसाइट jio.com पर जाना होगा।

Reliance Jio 80,000 posts Recruitments so apply

Reliance Jio के मुख्य मानव संसाधन अधिकारी संजय जोग ने एक इवेंट में बताया कि इस समय कंपनी में तकरीबन 1,57,000 कर्मचारी काम कर रहे हैं। मैं कहना चाहूंगा कि यह संख्या और 75000 से लेकर 80000 तक बढ़े।

उन्होंने आगे कहा कि कंपनी ने तकरीबन छह हजार कॉलेजों से पार्टनरशिप किया है। इसमें टेक्निकल इंस्टीट्यूट भी शामिल हैं। Jio में नौकरी के बारे में जोग ने बताया कि यह रेफरल के अलावा सोशल मीडिया की मदद से भी की जाएगी।

ऐसे कर सकते हैं Reliance Jio में अप्लाई

Reliance Jio में अप्लाई करना काफी आसान है। इसके लिए सबसे पहले उम्मीदवारों को Jio की आधिकारिक वेबसाइट www.jio.com पर जाना होगा। इसके बाद वहां आपको https://careers.jio.com/frmapplication.aspx पर जाना होगा। अब आप वहां अपना रिज्यूमे अपलोड कर सकते हैं।

loading...

अभी जियो के साथ 1,57,000 कर्मचारी हैं

आपको बता दें कि संजय जोग ने सोसाइटी आफ ह्यूमन रिसोर्सेज मैनेजमेंट की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में इस बात का जानकारी दी है। कार्यक्रम के बाद उन्होंने संवाददाताओं से बात करते हुए बताया कि अभी जियो के साथ 1,57,000 कर्मचारी हैं।

ऐसे होंगी नई नियुक्तियां

संजय जोग के मुताबिक, कंपनी ने देशभर में करीब 6,000 कॉलेजों के साथ गठजोड़ किया है। इनमें तकनीकी संस्थान शामिल हैं। संजय जोग ने कहा कि इनमें से कुछ संस्थानों में इंडस्ट्री से जुड़े खास पाठ्यक्रम चलते हैं।

  1. इससे छात्र कंपनी में सीधे काम करने के लिए तैयार हो जाते हैं।
  2. जोग ने बताया कि रेफरल के माध्यम से भी नियुक्तियां की जाएंगी।
  3. इसके लिए अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों का भी सहारा लिया जा रहा है।
  4. रेफरल के जरिए नियुक्तियों का कुल हाइरिंग में करीब 60 से 70 % हिस्सा है।
  5. कॉलेज और कर्मचारियों के रेफरेल का नियुक्तियों की योजना में बड़ा योगदान रहता है।

 

नौकरी छोड़ने वालों की दर

  1. संजय जोग कंपनी को छोड़कर जाने वाले कर्मचारियों के बारे में बताया कि सेल्स और टेक्निकल क्षेत्र में
  2. एट्रीशन यानी कंपनी को अलविदा कहने वालों की दर करीब 32 % है।
  3. वहीं, हेड क्वार्टर स्तर की बात है तो एट्रीशन रेट सिर्फ 2 % है।
  4. अगर आप औसत देखें तो यह दर घटकर करीब 18 % रह गर्इ है।
Loading...
loading...